0

साथियों आजकल बाजार में गाजर गोभी और शलजम बहुतायत में मिल रहे हैं. इन तीनों को मिलाकर बना स्वादिष्ट मीठा अचार आपको पसंद आयेगा और छोटे बच्चों को भी.

आवश्यक सामग्री - Ingredients for Carrots, Turnip and Cauliflower pickle

◆गोभी, गाजर, शलजम - 1 कि. ग्राम.
◆जीरा -1 1/2 छोटी चम्मच
◆मैथी - 1 1/2 छोटी चम्मच
◆सौंफ - 2 छोटी चम्मच
◆राई - 1 1/2 छोटी चम्मच
◆गरम मसाला - 1 छोटी चम्मच
◆अदरक पाउडर - 1 छोटी चम्मच
◆हींग - एक चौथाई छोटी चम्मच
◆हल्दी पाउडर - 1 छोटी चम्मच
◆बड़ी इलाइची - 5 (छील कर कूट लीजिये)
◆खजूर - 10-12 (पतले पतले काट लीजिये)
◆लाल मिर्च - एक चौथाई छोटी चम्मच
◆तेल - 150 ग्राम (3/4 कप)
◆सादा नमक - 2 छोटे चम्मच
◆काला नमक - 1 छोटी चम्मच
◆सिरका - 3/4 कप 
◆गुड़ - 300 ग्राम (टुकड़े किये हुये 1.5 कप)

👉घर में ऐसे बनाएँ गोभी गाजर और शलजम का मीठा अचार(How to make Carrots, Turnip and Cauliflower pickle)

गरम पानी में आधा छोटा चम्मच नमक डाल कर, गोभी को टुकड़ों में करके 10 मिनिट पानी में डुबा कर धोकर निकाल लीजिये. गाजर और शलजम को छीलिये, धोइये और लम्बे टुकड़े में काट लीजिये. 

जीरा, मैथी, सोंफ, राई, काली मिर्च, लोंग और दालचीनी को दरदरा पीस लीजिये और बड़ी इलाइची को छील कर कूट कर अलग रख लीजिये. 

खजूर के बीज निकाल कर लम्बे लम्बे टुकड़ों में काट लीजिये. 
किसी बर्तन में इतना पानी लेकर गरम करने रखिये जिसके अन्दर सब्जियां आसानी से डूब सके. पानी में उबाल आने के बाद सब्जियां उबलते पानी में डालिये और ढक दीजिये,
2 - 3 मिनिट बाद आग बन्द कर दीजिये. सब्जियों को 10 मिनिट तक पानी में ढकी रहने दीजिये. सब्जियां हल्की सी नरम हो जाती हैं.

किसी छलनी से पानी निकाल कर, सब्जियों को सूती सूखे कपड़े पर फैलाइये और 2 घंटे धूप में सूखने दीजिये. धूप न होने पर ये सब्जियां कपड़े पर फैला कर छाया 3-4 में सुखाई जा सकती हैं. 

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये,(धीमी आग रखिये). गरम तेल में हींग, हल्दी पाउडर और पिसे हुये मसाले डालिये, चमचे से चलाकर थोड़ा सा भूनिये, अब गोभी, गाजर और शलजम के टुकड़े डाल कर, नमक और लाल मिर्च डालिये, सारी चीजों को आग पर अच्छी तरह मिला लीजिये. आग बन्द कर दीजिये. 

किसी दूसरे बर्तन में सिरका और गुड़ को गरम कीजिये, गुड़ पिघलने तक इसे पका लीजिये. इस पिघले गुड़ को छानिये और मसाले मिले अचार में मिला दीजिये, कुटी हुई इलाइची और कटे हुये खजूर भी अचार में मिला दीजिये. अचार पतला दिखाई दे रहा है तो उसे गाड़ा होने तक पका लीजिये. 

गोभी, गाजर और शलगम के अचार को अच्छी तरह ठंडा होने के बाद कांच या प्लास्टिक कन्टेनर में भर कर रख दीजिये, आप ये अचार अभी खा सकते हैं, लेकिन अचार का असली स्वाद 4-5 दिन बाद मिल पाता है जब तक सब्जियों में सारे मसाले अन्दर तक जब्ज हो जाते हैं. गोभी, गाजर शलगम के खट्टा मीठा अचार को 6 महिने तक भी रख कर खा सकते हैं.

स्पेशल टिप्स :
अगर अचार में बाद में पतला जूस ज्यादा दिखाई दे रहा हो तो अचार को फिर से आग पर रखकर गाड़ा कर लीजिये.

Post a Comment Blogger

 
Top